• आयुर्वेद भारत की शक्ति है: आरएसएस प्रमुख
  • दिल्ली में आज पेट्रोल पंप बंद
  • खशोगी पर सऊदी विदेश मंत्री ने कहा, ‘हम नहीं जानते शव कहां है’
  • गिरिराज सिंह बोले, भारत के मुसलमान प्रभु राम के वंशज हैं
  • पत्रकार जमाल खशोगी की मौत की विस्तृत जांच हो, यूरोपियन यूनियन ने की मांग
  • पीएम मोदी ने राष्ट्रीय पुलिस स्मारक का उद्घाटन किया
  • अमृतसर ट्रेन हादसा: प्रशासन पर फूटा लोगों का गुस्सा
  • जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में 3 आतंकी ढेर
होमMoreटूरिज़्मMoreभारत दर्शन
Redstrib
भारत दर्शन
Blackline
महेंद्रगढ़: नारनौल शहर से महज 10 किलोमीटर दूर पश्चिम में आर्चक पर्वत है. इसे ढोसी के नाम से जाना जाता है. सात हजार साल पूर्व महर्षि च्यवन ने तपस्या के लिए ढोसी को चुना था. लम्बा समय बीतने के बावजूद ढोसी आज भी इस क्षेत्र के लोगों के लिये आस्था का केंद्र बना हुआ है.
Published 03-Sep-2018 22:52 IST
धारः इंसानी सभ्यता जिस रूप में आज है, हमेशा से वैसी नहीं रही. सदियों के अनवरत विकास और अन्वेषण से हम यहां तक पहुंचे हैं और हमारे इस क्रमिक विकास की दास्तान कहता है इतिहास. इतिहास हमें अपने वजूद का एहसास कराता है, इतिहास सिर्फ किसी शासन के उत्थान और पतन की गाथा भर नहीं बताता, बल्कि वह अपने भीतर तमामMore
Published 27-Aug-2018 19:49 IST | Updated 22:30 IST
कैथल: दुनियाभर में कई अजीबोगरीब किस्से देखने और सुनने को मिलते हैं। ऐसा ही एक वाक्या कैथल में सुर्खियों में है. यहां सुअर ने हाथी जैसे बच्चे को जन्म दिया है.
Published 21-Aug-2018 19:56 IST | Updated 20:07 IST
भोपाल: इस बात में कोई शक नहीं है कि यात्राएं कभी-कभी दवाओं का काम कर जाती हैं। किसी नई जगह जाने से ना सिर्फ नए लोग, नया खानपान, नई बोली और नया पहनावा देखने को मिलता है बल्कि जिंदगी जीने का एक नया नजरिया भी विकसित होता है।
Published 20-Aug-2018 23:31 IST
सिरसा। डबवाली की जूतियां पूरे देश में मशहूर हैं। इन जूतियों की खास बात ये है कि महिलाएं इन्हें हाथों से तैयारी करती हैं। यही नहीं इन्ही जूतियों से कमाए पैसों से वो अपना घर भी चलाती हैं।
Published 13-Aug-2018 17:26 IST | Updated 17:47 IST
चंडीगढ़/दिल्ली। अगर कभी आपने जी टी रोड (कोलकाता से पेशावर) पर सफ़र किया हो, तो आप देखेंगे कि सड़क के बराबर कुछ-कुछ दूरी पर पुराने ज़माने की मीनारें बनी हुई हैं, इन्हें 'कोस मीनार' कहा जाता है।
Published 03-Jun-2018 09:03 IST | Updated 17:34 IST
भिवानी। जलियांवाला बाग की कहानी सुनते ही आपकी आंखों के सामने दुख, दर्द, चीख, पुकार, मौत और क्रूरता का मंजर दौड़ने लगता है। साल 1919 में अंग्रेज़ी हुकूमत ने सैकड़ों निहतों का नरसंहार किया था। पढ़े स्पेशल रिपोर्ट...
Published 31-May-2018 13:55 IST | Updated 09:29 IST
पुरी, वाराणसी, तिरुपति और शिरडी जैसे तीर्थ स्थानों के साथ आध्यात्मिक प्रेरणादायक स्थल भारतीय पर्यटन उद्योग का एक सबसे महत्वपूर्ण घटक बनकर उभरा है। ट्रैवेल मार्केटप्लेस इक्सिगो द्वारा किए गए एक अध्ययन से इस बात सामने आई है।
Published 20-May-2018 00:15 IST
चंडीगढ़/नारनौल। इस बात को कहना सही ही होगा कि भारत के 17 वें राज्य के रूप में अस्तित्व में आया हरियाणा प्रदेश ज्यॉग्राफिकली बहुत बड़ा भले ना हो लेकिन राज्य का इतिहास बेहद प्राचीन है, जिसकी तस्दीक हरियाणा का समाजशास्त्र आज भी बाकायदा कर रहा है।
Published 17-May-2018 08:06 IST | Updated 08:12 IST
चंडीगढ़/दिल्ली। पानीपत व करनाल के बीच में शेरशाह सूरी मार्ग पर, घरौंडा में मौजूद मुग़ल सराय अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है।
Published 14-May-2018 10:10 IST | Updated 10:10 IST
चंडीगढ़/दिल्ली। हरियाणा सही मायनों में भले ही 1 नवंबर 1966 को भारत के मानचित्र पर अपना नाम अंकित कराने में कामयाब हुआ हो, लेकिन इस बात से कोई भी इंकार नहीं कर सकता कि वास्तव में हरियाणा का इतिहास प्राचीन भी है और यादगार भी।
Published 14-May-2018 08:44 IST | Updated 10:30 IST

बालों की सुरक्षा के लिए अपनाएं प्राकृतिक हेयर कलर
video playगर्मियों की छुट्टियों में त्वचा का यूं रखें ख्याल
गर्मियों की छुट्टियों में त्वचा का यूं रखें ख्याल

डार्क चॉकलेट खाने के फायदे हैं हैरान करने वाले