• UP-हरियाणा सीमा पर दौराला टोल प्लाजा पर बाइक सवारों ने युवक को मारी गोली
  • महाराष्ट्रः MSRTC ने बांबे HC के आदेश के बाद देर रात हड़ताल खत्म की
  • सोमालिया बम धमाकों में मरने वालों की संख्या 358 पहुंची
  • श्रीलंका की नौसेना ने तमिलनाडु के सात मछुआरों को गिरफ्तार किया
  • हिमाचल चुनाव: CM वीरभद्र ने अर्की विधानसभा क्षेत्र से भरा नामांकन
  • भगवान केदारनाथ के कपाट 6 माह के लिए आज हुए बंद
  • महाराष्‍ट्र: सांगली में ट्रक पलटने से हादसा, 10 लोगों की मौत
  • हिमाचल: शिमला जिले के ननखड़ी में बस दुर्घटना, 2 की मौत, 10 घायल
  • पीएम मोदी 29 अक्टूबर को करेंगे मन की बात
होमMoreटूरिज़्मMoreशहर-ख़ास
Redstrib
शहर-ख़ास
Blackline
दस दिवसीय 'मैसूर दशहरा' की शुरुआत पूरी भव्यता और उत्साह के साथ गुरुवार से हो गई। त्योहार में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और अन्य अधिकारियों ने भी भाग लिया। मैसूर से 13 किलोमीटर दूर चामुंडी हिल्स में जाने-माने कन्नड़ कवि एवं पद्मश्री के.एस. निसार अहमद के साथ ही सिद्धारमैया और अन्य अधिकारियोंMore
Published 23-Sep-2017 00:15 IST
यूं तो भारत में घूमने के लिए कई जगहें हैं, ये हर जगहें अपने आप में बेहद खूबसूरत भी हैं। भारत का हर कोना अपने अक्श में एक कहानी संजोए बैठा है। लेकिन कहा जाता है न खूबसूरती का बखान तब तक नहीं होता जब तक कोई उसे निहारने वाला न हो। उसी तरह किसी भी जगह का सौंदर्य सैलानियों की जुबानी और भी खूबसूरत हो जाताMore
Published 31-Aug-2017 13:47 IST | Updated 13:51 IST
हिमाचल प्रदेश के स्‍पीति घाटी में स्थित है दुनिया का सबसे ऊंचा गांव किब्बर गांव। समुद्र तल से 4850 मीटर की ऊंचाई पर बसा यह गांव हिमाचल प्रदेश के स्पीति घाटी में है। प्रदेश की राजधानी शिमला से तकरीबन 430 किलोमीटर दूर किब्बर गांव में कई बौद्ध मठ हैं।
Published 24-Jul-2017 00:15 IST
पुणे शहर से कुछ ही दूरी पर बसा है एक खूबसूरत घाट मालशेज घाट। यहां आप अपने साथी और परिवार के साथ अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां की खूबसूरत वादियां आपके सारी टेंशन और थकान भुला देगी। मालशेज घाट की खूबसूरती अक्सर मानसून में और भी बढ़ जाती है।
Published 19-Jul-2017 00:15 IST
पुल जो बन गया बंगाल की शान, पुल जो बन गया बंगाल की एक पहचान। जी हां, हम बात कर रहे हैं बेहद मशहूर और दुनिया के सबसे व्यस्त पुल हावड़ा ब्रिज की। एक पुल हजार अफसाने, करोड़ो लोग रोटी की तलाश में इस पुल को पार कर देश के सबसे बड़े शहरों में से एक कोलकाता में प्रवेश करते हैं और भीड़ का हिस्सा बन जाते हैं।More
Published 17-Jul-2017 11:21 IST | Updated 11:45 IST
काशी और बनारस के नाम से विख्यात वाराणसी विश्व के प्राचीनतम जीवंत शहरों में एक है। 'वामन पुराण' के अनुसार वरूणा और असि नदियों के मध्य की भूमि ही 'वाराणसी' कहलाती है, जो सभी तीर्थयात्रियों के लिए पवित्रतम स्थान है। वाराणसी हिंदू धर्म का नाभिस्थल है। यह प्राचीन संस्कृति का परंपरागत शहर है। यहां सेMore
Published 11-Jul-2017 00:15 IST | Updated 09:51 IST
खुले आसमान में सितारों की जगमगाहट देखना कौन नहीं पसंद करता। लेकिन शहर की चकाचौंध और गाड़ियों से निकलता धुंआ बादलों आपको और बादलों के बीच एक धुंधली परत जमा देता है। आप चाह कर भी हसीन रात की खूबसूरती का लुत्फ नहीं उठा पाते। लेकिन अब आप फिक्र न करें राजस्थान का एक रिसोर्ट आपको इस सुख से महरूम नहीं होनेMore
Published 25-Jun-2017 00:15 IST
देश के जवान भूखे-प्यासे रहकर भी सरहदों की रक्षा करते हैं, दुश्मनों की गोलियों का सामना करते हैं, उन्हें अपने ही देश में पत्थरबाजों, घात लगाए बैठे नक्सलियों की हिंसा का भी सामना करना पड़ता है, उनकी शहादत पर ओछी राजनीति भी होती है। लेकिन देश में जवानों के जज्बों को सलाम करने वालों की भी कमी नहीं है।More
Published 14-Jun-2017 00:15 IST
बिहार के मिथिलांचल क्षेत्र में 'सौराठ सभा' यानी दूल्हों का मेला, प्राचीन काल से लगता आया है। यह परंपरा आज भी कायम है। आधुनिक युग में इसकी महत्ता को लेकर बहस जरूर तेज हो गई है। सौराठ सभा मधुबनी जिले के सौराठ नामक स्थान पर 22 बीघा जमीन पर लगती है। इसे 'सभागाछी' के रूप में भी जाना जाता है। सौराठ गुजरातMore
Published 23-May-2017 11:56 IST
भारत में ऐसे बहुत से लोग हैं जो ट्रेफिक रूल्स का बेहद ध्यान रखते हैं क्योंकि ये हमें दुर्घटना से बचाते हैं। हमारे लिए ट्रैफिक रूल्स उन लाइट्स के रंगों को याद रखने से शुरू होता है। लेकिन क्या आपने कभी ड्राइविंग करते वक्त आपने सड़क की ओर कई दफ़े सफ़ेद, तो कई बार पीले रंग की लाइन्स देखी होंगी? इसकेMore
Published 20-May-2017 00:15 IST
एक समय था, जब चीजें आज से बिल्कुल अलग थीं। छुट्टियों में बच्चे पूरे समय खेल के मैदान और पार्क व सड़कों पर खेलते थे। अगर आपको लगता है कि ऐसा फिर से कभी नहीं हो पाएगा, तो आपके लिए सरप्राइज है! 42 एकड़ में फैला अप्पूघर का नया अवतार आपकी पुरानी यादें ताजा करने के साथ ही, देश की नई पीढ़ी के साथ नई यादेंMore
Published 18-May-2017 12:30 IST
आमतौर पर अगर लोगों को मोर के दर्शन करने होते हैं, तब वह चिड़ियाघर या जंगलों की ओर रुख करते हैं। पटना में भी अगर आपको नाचते मोर के दृश्य का आनंद लेना हो तो आप संजय गांधी जैविक उद्यान जाना चाहेंगे, लेकिन बिहार के सहरसा जिला का आरण एक ऐसा गांव है, जिसकी पहचान ही अब 'मोर के गांव' के रूप में होने लगी है।More
Published 10-May-2017 00:15 IST
छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिला मुख्यालय से महज 12 किलोमीटर दूर पुरई, खेल गांव के रूप में मशहूर है। यहां से निकले खिलाड़ियों ने जिले के बाद प्रदेश और देश में भी गांव का नाम रोशन किया है। गांव का एक खिलाड़ी तो अंतर्राष्ट्रीय खो-खो मैच में भारत का प्रतिनिधित्व भी कर चुका है।
Published 03-May-2017 00:15 IST

केले के छिलके से इस तरह पाएं खूबसूरत त्वचा
video playचेहरे के साथ-साथ त्योहारों पर यूं चमकाएं बाल, हाथ और नाखून
चेहरे के साथ-साथ त्योहारों पर यूं चमकाएं बाल, हाथ और नाखून
video playदिवाली में ऐसे निखारें चेहरे की रंगत
दिवाली में ऐसे निखारें चेहरे की रंगत

दिवाली के बाद इस तरह रखें अपने सेहत का ख्याल
video playफिश पेडिक्योर के बहाने आप बीमारी को तो न्यौता नहीं दे रहे
फिश पेडिक्योर के बहाने आप बीमारी को तो न्यौता नहीं दे रहे
video playयह रोग पुरुषों में कम, महिलाओं में ज्यादा
यह रोग पुरुषों में कम, महिलाओं में ज्यादा

ट्विटर का नया सेफ्टी कैलेंडर जारी
video playगूगल कराएगा मंगल की सैर
गूगल कराएगा मंगल की सैर
video playवाट्सएप महिलाओं और बच्चों को
वाट्सएप महिलाओं और बच्चों को 'लाइव लोकेशन' से करेगा सशक्त