• BMC चुनावः शिवसेना सबसे बड़ी पार्टी, पर भाजपा मात्र तीन सीट पीछे
  • यूपी चुनावः चौथे चरण का चुनाव संपन्न
  • BMC चुनाव : संजय निरुपम ने दिया मुम्‍बई कांग्रेस अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा
  • कश्मीर : शोपियां में सेना के गश्ती दल पर आतंकी हमला, तीन जवान शहीद
  • महोबा में SP-BSP समर्थकों के बीच फायरिंग, चार लोग घायल
  • ब्रिटेन के कानून के तहत सुरक्षित हूं, भारत सरकार के लोगों की दया पर नहीं: माल्या
  • मण‍िपुर : सुरक्षा बलों के सर्च ऑपरेशन के दौरान गोलीबारी, एक आतंकी, महिला की मौत
होमMoreसहेलीMoreपरवरिश
Redstrib
परवरिश
Blackline
पीरियड्स एक नेचुरल प्रक्रिया है बावजूद इसके हम आज भी सार्वजनिक रूप से इस पर बात करने से परहेज करते हैं। पीरियड्स को लेकर ऐसे कई मिथ हैं जो सालों से चले आ रहे हैं। इसमें से कई ऐसे मिथ भी हैं जिनकी वजह से हमारी बेटियों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
Published 23-Feb-2017 00:15 IST | Updated 12:57 IST
दांतो के दर्द से केवल बड़े नहीं बल्कि बच्चे भी गुजरते हैं जो उनके लिए काफी पीड़ादायक होता है। बच्चों की दांतों के दर्द को कैसे कम किया जाए इसके कुछ उपाय यहां बताए जा रहे हैं।
Published 22-Feb-2017 00:15 IST
बच्चे को हेल्दी बनाना हर मां-बाप की ख्वाहिश होती है। ऐसे में उनके खानपान पर सही ध्यान देना हर पैरेंट्स के लिए बेहद जरूरी है। बच्चे की दिन की शुरुआत से लेकर दिन खत्म होने तक बच्चे को उन फूड्स से बचाना बहुत जरूरी है जो उनकी इम्यूनिटी को आगे चलकर कमजोर बनाते हैं।
Published 21-Feb-2017 00:15 IST
आप चाहते हैं कि आपका बच्चा रोजाना नये-नये शब्द सीखे और उसकी भाषाा में सुधार आए तो आपको बस उसके सोने के समय में एक-दो घंटे की बढ़ोतरी करनी पड़ेगी। एक अध्ययन में यह दावा किया गया है कि 10 से 12 घंटे की नींद लेने वाले बच्चों को ज्यादा से ज्यादा शब्द याद रहते हैं।
Published 20-Feb-2017 00:15 IST
बच्चे के जन्म के बाद मां-बाप की सबसे बड़ी चिंता यही होती है कि उनका बच्चा पूरी तरह स्वस्थ है या नहीं। वो मानसिक और शारीरिक रूप से किसी कमजोरी का शिकार तो नहीं है। पर अब ये पता कर पाना संभव है कि बच्चा तार्किक होगा या नहीं। हाल ही में हुए एक रिसर्च में कहा गया है कि बच्चे के पहले मल से इस बात का पताMore
Published 19-Feb-2017 00:15 IST
छोटे बच्चों की कोमल त्वचा और नाजुक शरीर की देखभाल करने के लिए हमेशा से ही उनके कपड़ों से लेकर उनके खि‍लौनों तक बहुत ख्याल रखा जाता रहा है। अधि‍कतर देखा गया है कि नवजात शि‍शु को माएं सुलाने के बाद तकिए पर उन्हें लिटा देती हैं लेकिन ऐसा करना उनके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह हो सकता है। इसलिए बेहतर होगाMore
Published 18-Feb-2017 00:15 IST
बच्चों की उम्र का एक ऐसा पड़ाव होता है, जब वह किसी भी चीज के बारे में देखते और सुनता है तो वह उसके बारे में अक्सर सवाल करने शुरू कर देता है। जैसे कि सभी छोटे बच्चे अक्सर अपने और दूसरों की शरीर के अंतर को देखकर सवाल पूछने लगते है और सवाल करने लगते है, जो हमे शर्मिदा और मजबूर कर देते है। एक मां को इसMore
Published 17-Feb-2017 00:15 IST
अगर आपसे बड़ा कोई भाई या बहन है, तो ये आर्टिकल पढ़ कर आपको थोड़ा बुरा लग सकता है। दरअसल, बात ये है कि एक रिसर्च से सामने आया है कि पहले पैदा हुए बच्चे अपने बाकी भाई-बहनों से ज्यादा समझदार होते हैं। University of Edinburgh के अर्थशास्त्री सालों से चली आ रही डिबेट के निष्कर्ष पर आखिरकार पहुंच ही गए हैं।More
Published 15-Feb-2017 00:15 IST
देश में सिर्फ महिलाओं से ही नहीं बल्कि बच्चियों के साथ भी दुष्कर्म के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। बच्चियों की सुरक्षा को सिर्फ देश की राजधानी में ही नहीं, बल्क‍ि पूरे भारत में खतरा है। इस बात का खुलासा एनसीआरबी द्वारा जारी हालिया आंकड़े से पता चला है।
Published 13-Feb-2017 00:15 IST
बच्चों के साथ वयस्कों के लिए भी नींद की छोटी अवधि याददाश्त बढ़ाने के लिए अच्छी मानी जाती है, लेकिन छोटे बच्चों के लिए यह बहुत ज्यादा फायदेमंद है। एक नए शोध से पता चला है कि थोड़ी देर की नींद से बच्चों में भाषा सीखने की क्षमता बेहतर होती है। शोध के निष्कर्षो से पता चलता है कि तीन साल के बच्चे अगर एकMore
Published 11-Feb-2017 00:15 IST
प्रेग्नन्सी, औरत से मां बनने का एक पड़ाव है जिससे हर महिला को गुजरना पड़ता है। हालांकि यह 9 महीनों का समय हर महिला के लिए काफी कष्टदायी होता है लेकिन इसके बाद मिलने वाली खुशी के लिए वो अपनी किस्मत का शुक्रियादा करता है।
Published 10-Feb-2017 00:15 IST
बच्चों के स्वास्थ्य की बात करें तो उन्हें खास ख्याल की जरूरत पड़ती है। बच्चों का इम्यून सिस्टम उतना स्ट्रॉन्ग नहीं होता जिसके चलते उन्हें बीमारियां जल्दी घेर लेती हैं। जन्म के बाद बच्चों का पहला साल बहुत महत्वपूर्ण और कठिनाई भरा होता है। इसी पहले साल से बच्चे का विकास भी शुरू हो जाता है। यहां जानिएMore
Published 09-Feb-2017 14:05 IST
सभी माता-पिता का सपना होता है कि उनका बच्चा सबसे बुद्धिमान हो, पढ़ने-लिखने में सबसे ज्यादा होशियार हो। इसी के चलते वह अपने बच्चों को स्कूल, ट्यूशन, हॉबी क्लासेस में पूरा दिन बच्चों व्यस्त कर देते हैं, ताकि उनका बच्चा भविष्य में सब चीजों के लिए तैयार हो। पेरेंट्स को ध्यान देना चाहिए कि कही उनका बच्चाMore
Published 07-Feb-2017 00:15 IST
जो नए-नए माता-पिता बने हैं उनके लिए सबसे बड़ी दिक्कत होती है बच्चे का रोना। बच्चे का असमय जाग जाना और फिर रोना। ऐसे में नए मां-बाप की न जानें कितनी ही रातें खराब हो जाती है। लेकिन क्या आपको पता है कि बच्चों के पैरों में कुछ ऐसे प्वाइंट्स भी होते हैं जिन्हें दबाकर आप बच्चे को चुप करवा सकते हैं।
Published 06-Feb-2017 14:08 IST
छोटे बच्‍चे अक्‍सर खाना खाने के दौरान नाक, मुंह सिकोड़ते हैं। उन्‍हें जब भी खाना दिया जाता है तो उनका मन कुछ और खाने का करता है या फिर वह खाने में कभी सब्‍जी खाने से मना करेंगे तो कभी दाल या अन्‍य चीजों से दूर भागते हैं। कई बार तो दूध पीने को लेकर भी बच्‍चे नखरे दिखाते हैं। इसके बदले वह फास्‍ट फूडMore
Published 05-Feb-2017 00:15 IST

इस तरह रखें अपने घर को जर्म फ्री
video playऐसे करें अपने प्लास्टिक के डिब्बों को साफ
ऐसे करें अपने प्लास्टिक के डिब्बों को साफ

video playमौसम ने बदली करवट, बर्फ की चादर से ढकी धरती
मौसम ने बदली करवट, बर्फ की चादर से ढकी धरती
video playइस भुतहा किले में सुनाई देती है सात लड़कियों की चीख
इस भुतहा किले में सुनाई देती है सात लड़कियों की चीख