• रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति बनेंगे, उन्हें 66 फीसदी वोट हासिल हुए
  • सुनंदा केस: दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को तीन दिन में स्टेटस रिपोर्ट देने को कहा
  • नई दिल्ली : नरेश अग्रवाल के घर के बाहर नेम प्लेट पर कुछ लोगों ने कालिख पोती
  • झारखंड: सीबीआई कोर्ट में पेश हुए लालू प्रसाद यादव
  • जम्मू: डोडा में बादल फटने से 6 लोगों की मौत, 11 घायल
  • हिमाचल : शिमला बस हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 28
होमMoreसहेलीMoreपरवरिश
Redstrib
परवरिश
Blackline
मां बनने का एहसास किसी भी महिला के लिए सबसे अनमोल होता है। यही वो समय है जब वो नारीत्व से मातृत्व की ओर कदम रखती है। गर्भ में बच्चे कई हरकत करते हैं जिनसे पता चलता है कि बच्चा स्वस्थ है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है बच्चा पेट में लात क्यों मारता है?
Published 19-Jul-2017 00:15 IST
एकाग्रता में कमी से संबंधित 'हाइपरएक्टिविटी डिजॉर्डर' (एडीएचडी) के असर को कम करने में नींद अहम भूमिका निभा सकती है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, मडरेक चिल्ड्रेंस रिसर्च इंस्टीट्यूट (एमसीआरआई) ने एक शोध में कहा कि एडीएचडी के लक्षण 70 फीसदी ऐसे बच्चों में पाए गए, जिन्हें नींद आने में दिक्कत होतीMore
Published 16-Jul-2017 00:15 IST
जन्म के समय ज्यादा वजन वाले बच्चों में बाद में मोटापा होने की संभावना ज्यादा होती है। नवजात बच्चों में खतरों की पहचान करने से चिकित्सक माता-पिता के साथ मिलकर वजन व अन्य स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों के बढ़ने को रोक सकते हैं।
Published 15-Jul-2017 00:15 IST
एक ताजा अध्ययन में कहा गया है कि आईवीएफ तकनीक से पैदा होने वाले बच्चे प्राकृतिक गर्भधारण के जरिए जन्मे बच्चों के समान ही स्वस्थ होते हैं। आईवीएफ एक तकनीक है, जिससे महिलाओं में कृत्रिम गर्भाधान किया जाता है। यह बांझपन दूर करने की कारगर तकनीक मानी जाती है।
Published 14-Jul-2017 00:15 IST
बच्चे जब पैदा होते हैं तो दिखने में बेहद खूबसूरत लगते हैं। उनको संवारने का मन करता है, उनको सजाने का मन करता है। दूसरे लोग उन्हें छूने चाहते हैं, गोद में लेना चाहते हैं। लेकिन, इन सब चीजों से आपके बच्चे की सेहत पर बुरा असर पड़ता है। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आपकोMore
Published 10-Jul-2017 00:15 IST
गर्भवती महिला के लिए यह समय बहुत ही खास होता है। ऐसे में उन्हें बरसाती मौसम में अपनी सेहत का खास ख्याल रखना चाहिए। इस मौसम में गर्भवती महिला को जरूरी विटामिन, खनिज, कैल्शियम, प्रोटीन और कैलोरी से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। इस मौसम में खाने-पीने में की गई लापरवाही आपकी तबीयत खराब करMore
Published 06-Jul-2017 00:15 IST
डिप्रेशन तो अच्छे-अच्छों को हाल बेहाल कर देता है तो बच्चे क्या चीज हैं। आजकल की लाइफस्टाइल बेहद कठिन हो गई है ऐसे में जब बच्चे अपने आपको उस लाइफस्टाइल में एडजस्ट नहीं कर पाते तो वो डिप्रेश होने लगते हैं। लेकिन एक चीज जिससे बच्चे सबसे ज्यादा टूटते हैं तो वो है मां-बाप का झगड़ा। मां-बाप के झगड़े भीMore
Published 05-Jul-2017 00:15 IST
दुनिया में निमोनिया से बच्चों की सबसे अधिक मौतें भारत में होती हैं। यह जानकारी आईएमए ने दी है। आईएमए के मुताबिक, वर्ष 2016 में देश में तीन लाख बच्चों की इस बीमारी से मौत हो गई। इस बीमारी से बच्चों की अधिक मौतों वाले अन्य देशों में नाइजीरिया, पाकिस्तान, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य और अंगोला प्रमुख हैं।More
Published 04-Jul-2017 00:15 IST
स्कूल में असुरक्षित महसूस करने से बच्चों के सीखने की क्षमता में कमी आ सकती है और इससे उनमें कई भावनात्मक समस्याएं भी पैदा हो जाती हैं। एक नए शोध में यह चेतावनी दी गई है। शोधकर्ताओं में से एक कनाडा के नोवा स्कोटिया स्थित सेंट-एने यूनिवर्सिटी के मनोविज्ञान के प्रोफेसर केरोलिन फिट्जपैट्रिक का कहना है,More
Published 03-Jul-2017 00:15 IST
छोटे बच्चे जब रोते हैं तो कई बार लोगों को य लगता है कि उन्हें कोई बीमारी या फिर परेशानी है, जबकि अपनी बातों को रोकर समझाना ही बच्चों की भाषा है। बच्चे सिर्फ किसी परेशानी होने पर ही नहीं बल्कि अपनी बात कहने के लिए भी रोते हैं, आपका ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने के लिए रोते हैं।
Published 02-Jul-2017 00:15 IST
प्रेगनेंसी के दौरान लेबर पेन कम हो इसलिए कुछ महिलाएं स्मोकिंग करती हैं। लेकिन इस स्मोकिंग के पीछे की एक बड़ी सच्चाई आपको भी नहीं पता। स्मोकिंग करने से बच्चे के आकार कम होता है जिस वजह से महिलाओं को लेबर पेन कम होता है। यह बात कई रिसर्च में साबित हो चुकी है कि स्मोकिंग गर्भस्थ शिशु के लिए कितनाMore
Published 30-Jun-2017 00:15 IST
प्रेगनेंसी एक महिला और उसके बच्चे के लिए बहुत खूबसूरत और नाजुक समय होता है। इसलिए अगर आप प्रेगनेंट हैं तो आपको अपना कुछ ज्यादा ख्याल रखना शुरू करना होगा। मां बनने का पहला पहला अनुभव होता है तो उन्हें ये नहीं पता होता है कि वो किन किन बातों का विशेष ध्यान रखें। अपने खान पान में किन बातों का विशेषMore
Published 28-Jun-2017 00:15 IST
छोटे बच्‍चे अपनी बात को सही तरह कह नहीं पाते हैं, जिसकी वजह से वे अपनी बात दूसरों तक पहुंचाने के लिए रोने लगते हैं। कई बार बच्‍चे रात में रोने लगते हैं, जिसके पीछे कई कारण छुपे हैं। ऐसा कई बच्चों के साथ बहुत ज्यादा होता है तो कईयों के साथ बहुत कम। आइए जानें बच्चे रात को क्यों रोते हैं-
Published 27-Jun-2017 00:15 IST
मॉनसून के दौरान बच्‍चों की ज्‍यादा देखभाल करने की जरूरत होती है। मॉनसून में जमीन में रहने वाले ज्यादातर कीड़े सतह पर आ जाते हैं और सब्जियों को प्रदूषित करते हैं। बारिश की वजह से होने वाली नमी में मक्खियां-मच्छर पनपते हैं। इसकी वजह से कई बीमारियां हो सकती हैं, बच्‍चों में रोक प्रतिरोधक क्षमता कम होतीMore
Published 26-Jun-2017 00:15 IST
आमतौर पर गर्भावस्था के दौरान बुखार या दर्दनिवारक के रूप में पैरासिटामोल का इस्तेमाल यों तो सुरक्षित माना जाता है, लेकिन हाल में हुए एक शोध में पता चला है कि गर्भावस्था में पैरासिटामोल लेने का भ्रूण की यौनइच्छा पर असर पड़ता है और उसका आचरण भी आक्रामक बना देता है। डेनमार्क के कोपेनहेगेन विश्वविद्यालयMore
Published 25-Jun-2017 00:15 IST

जॉब्स जो बना सकते है आपको करोड़पति
video playज्यादा काम करने से भी पड़ सकता है  दिल का दौरा
ज्यादा काम करने से भी पड़ सकता है दिल का दौरा
video play
'सैलरी आती बाद में है-जाती पहले है', ऐसा है तो पढ़ें

एक्सरसाइज दिला सकता है इन सात तरह के कैंसर से राहत
video playसेब का बीज ले सकता है आपकी जान
सेब का बीज ले सकता है आपकी जान
video play
'मॉनसून में बीमारियों से बचना है तो इन चीजों का अधिक सेवन करें'

क्‍या करें जब बारिश में भीग जाएं जूते ?
video playबारिश के मौसम में यूं सहेज कर रखें अपना घर
बारिश के मौसम में यूं सहेज कर रखें अपना घर
video playघर पर लगाएंगे ये पेड़-पौधे तो कभी नहीं होगी पैसो की कमी
घर पर लगाएंगे ये पेड़-पौधे तो कभी नहीं होगी पैसो की कमी

वैश्विक धरोहरों का खजाना है यहां, हजारों साल पुरानी यादें मौजूद