• BMC चुनावः शिवसेना सबसे बड़ी पार्टी, पर भाजपा मात्र तीन सीट पीछे
  • यूपी चुनावः चौथे चरण का चुनाव संपन्न
  • BMC चुनाव : संजय निरुपम ने दिया मुम्‍बई कांग्रेस अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा
  • कश्मीर : शोपियां में सेना के गश्ती दल पर आतंकी हमला, तीन जवान शहीद
  • महोबा में SP-BSP समर्थकों के बीच फायरिंग, चार लोग घायल
  • ब्रिटेन के कानून के तहत सुरक्षित हूं, भारत सरकार के लोगों की दया पर नहीं: माल्या
  • मण‍िपुर : सुरक्षा बलों के सर्च ऑपरेशन के दौरान गोलीबारी, एक आतंकी, महिला की मौत
होमMoreधर्मक्षेत्रMoreविधि-विधान
Redstrib
विधि-विधान
Blackline
कांगड़ा। जिले के इंदौरा से सटे काठगढ़ के शिव मंदिर में बड़ी तादाद में श्रद्धालु शिवरात्री के अवसर पर दर्शनों के लिए आ रहे हैं। श्रद्धालुओं के जमावड़े से काठगढ़ बम बम भेले के जयकारों से गूंज रहा है। गुरुवार को जिला स्तरीय शिवरात्रि मेले के शुभारम्भ से जिले में रौनक और भी बढ़ गई है।
Published 24-Feb-2017 07:58 IST
नई दिल्ली। देशभर में आज बसंत पंचमी का त्यौहार बड़ी ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। यह त्यौहार माघ महीने की शुक्ल पक्ष पंचमी को मनाया जाता है। इसी दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत होती है।
Published 01-Feb-2017 08:16 IST
हरिद्वार। मौनी अमावस्या के पर्व पर बरसात और ठंड का कोई असर देखने को नहीं मिला। धर्मनगरी हरिद्वार में कड़ाके की ठंड के बाद भी आधी रात से ही हर की पैड़ी पर श्रद्धालुओं ने गंगा तटों पर स्नान करना शुरू कर दिया था। इस मौके पर गंगा घाटों और तटों पर हर-हर गंगे के जयकारों के साथ लोगों ने गंगा में गोते लगाए।
Published 27-Jan-2017 13:40 IST
ऋषिकेश। माघ मेले में सबसे महत्वपूर्ण स्नान मौनी अमावस्या के दिन करोड़ों श्रद्धालुओं ने गंगा में आस्था की डुबकी लगायी। अहले सुबह त्रिवेणी घाट पहुंचकर करोड़ों लोगों ने गंगा स्नान किया।
Published 27-Jan-2017 12:13 IST
भोपाल। मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड में स्थित प्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन केंद्र ओरछा में भगवान राम का विवाहोत्सव शुरू हो गया है। इस विवाहोत्सव का आनंद लेने देश विदेश से हजारों की संख्या में श्रृद्धालु ओरछा पहुंचते हैं। रविवार को विवाह पंचमी (अगहन पंचमी) की तिथि से शुरू हुआ ये उत्सव अगहन सप्तमी तक चलेगा।
Published 05-Dec-2016 11:49 IST | Updated 12:30 IST
रुद्राक्ष भगवान शिव को बहुत ही प्रिय है। इसे परम पावन समझना चाहिए। रुद्राक्ष के दर्शन से, स्‍पर्श से तथा उसपर जप करने से वह समस्‍त पापों का हरण करने वाला माना गया है। भगवान शिव ने समस्‍त लोकों का उपकार करने के लिए देवी पार्वती के सामने रुद्राक्ष की महिमा का वर्णन किया था। आइए जानते हैं क्‍या हैMore
Published 18-Nov-2016 16:37 IST
मां गायत्री, परमात्‍मा की वह इच्‍छा शक्‍ति हैं, जिसके कारण सारी सृष्‍टि चल रही है। छोटे से परमाणु से लेकर पूरे विश्‍व-ब्रह्मण्‍ड तक व नदी-पर्वतों से लेकर पृथ्‍वी, चांद व सूर्य तक सभी उसी की शक्‍ति के प्रभाव से गतिशील हैं। आमतौर पर यह परम शक्‍ति मनुष्‍य के दिल-दिमाग की गहराइयों में सोई रहती हैं। इसकोMore
Published 13-Nov-2016 00:00 IST
देवोत्‍थान एकादशी को हरि प्रबोधिनी एकादशी के नाम से भी जाना जाता है। पौराणिक मान्‍यता है कि अषाढ़ मास के शुक्‍ल पक्ष की एकादशी यानि देवशयनी एकादशी से चार माह के लिए भगवान विष्णु क्षीर सागर में सोने चले जाते हैं। इसके बाद देवोत्‍थान एकादशी के दिन वह फिर जाग्रत होते हैं। आइए जानते हैं इस महाफलदायीMore
Published 10-Nov-2016 00:00 IST
सनातन धर्म की रक्षा के लिए आदि शंकराचार्य ने साधु-संतों के अखाड़ों की परंपरा शुरू की थी। इन अखाड़ों में दंडी सन्‍यासियों के साथ-साथ वीर योद्धा संन्‍यासियों के रूप में नागा साधुओं को भी अहम स्‍थान प्रदान किया गया। हम सब इन नागा साधुओं की अनोखी दुनिया के बारे में जानना चाहते हैं। हालांकि, हम में सेMore
Published 05-Nov-2016 12:18 IST
नई दिल्ली। भाई-बहन के परस्पर प्रेम तथा स्नेह का प्रतीक त्यौहार भैया दूज कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीय तिथि को दीपावली के बाद पूरे देश में आदिकाल से मनाया जाता है। इस दिन बहनें अपने भाई को तिलक लगाकर उनके उज्ज्वल भविष्य व उनकी लम्बी उम्र की कामना करती हैं।
Published 01-Nov-2016 09:19 IST
गोवर्धन पूजा की कथा श्रीकृष्ण काल से जुड़ी है। विष्णु पुराण के अनुसार ब्रज में इंद्र देव की पूजा करने का रिवाज था, जिसे समाप्त कर भगवान श्रीकृष्ण ने गोवर्धन की पूजा करना प्रारंभ किया था।
Published 31-Oct-2016 13:13 IST
दीवाली के बाद कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को मनाया जाता है। इस त्योहार में बलि पूजा, अन्न कूट, मार्गपाली जैसे उत्सव पूरे किए जाते हैं। भगवान कृष्ण के द्वापर युग में अवतार के बाद अन्नकूट या गोवर्धन पर्वत पूजा की शुरुआत हुई थी।
Published 31-Oct-2016 13:03 IST
नई दिल्ली। दीपावली के त्योहार पर लक्ष्मी- गणेश पूजन का खास महत्व है। दीपावली के दिन प्रदोषकाल में माता लक्ष्मी जी की पूजा होती है। मान्यता है कि इस समय लक्ष्मी जी की पूजा करने से मनुष्य को कभी दरिद्रता का सामना नहीं करना पड़ता।
Published 30-Oct-2016 08:21 IST | Updated 09:53 IST
मंडी। दीपावली का त्योहार देश भर में अलग-अलग परिवेश और माहौल के लिहाज से मनाया जाता है। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला के मलवाणा गांव की दीपावली का अंदाज भी निराला है। यह दीपावली लोक परंपराओं के साथ जुड़ी हुई है।
Published 29-Oct-2016 20:58 IST | Updated 21:01 IST
हल्द्वानी। उत्तराखंड को देव भूमि कहा जाता है। यहां के नैनीताल जिले के बेरीपड़ाव स्थित अष्टादसभुजा महालक्ष्मी मंदिर का दीपावली में अलग ही महत्व है। यह उत्तर भारत का एक मात्र मंदिर है, जिसमें अठारह भुजाओं वाली देवी महालक्ष्मी की भव्य मूर्ति विराजमान है।
Published 29-Oct-2016 17:34 IST

डेनियल लॉयड की
video playपति के निधन के बाद
पति के निधन के बाद 'मजबूत' हो गई हैं सेलिन डियोन
video playनिकोल किडमैन ने परिवार के लिए ठुकराई बड़ी फिल्में
निकोल किडमैन ने परिवार के लिए ठुकराई बड़ी फिल्में