• केंद्र सरकार ने 3 साल में जनता से किए वादे पूरे नहीं किए: मुलायम सिंह
  • अखिलेश को बेटे के नाते आशीर्वाद, लेकिन उनके फैसलों से सहमत नहीं: मुलायम
  • मैं नई पार्टी नहीं बनाने जा रहा: मुलायम सिंह यादव
  • मुलायम : योगी सरकार की कथनी और करनी में फर्क
  • खेल मंत्रालय ने पद्म भूषण के लिए पीवी सिंधू के नाम की सिफारिश की
  • टेरर फंडिंग: अलगाववादी सैयद अली शाह गिलानी के बेटे नसीम गिलानी से NIA की पूछताछ
  • राजस्थान: बांसवाड़ा में बाप-बेटे ने एक महिला को जिंदा जलाया
  • दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में BJP राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक
Redstrib
धर्मसार
Blackline
नवरात्र के आरंभ में प्रतिपदा तिथि को कलश या घट की स्थापना की जाती है। कलश को भगवान गणेश का रूप माना जाता है। हिन्दू धर्म में हर शुभ काम से पहले गणेश जी की पूजा का विधान है। इसलिए नवरात्र की शुभ पूजा से पहले कलश के रूप में गणेश को स्थापित किया जाता है। आइए जानते हैं कि नवरात्र में कलश स्थापना कैसेMore
Published 20-Sep-2017 17:25 IST
इस साल रक्षाबंधन के त्योहार पर भद्रा का साया है। 7 अगस्त को रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाएगा। लेकिन इस दिन ग्रहण होने की वजह से बहनों को राखी बांधने के लिए लगभग पौने तीन घंटे (2 : 47 मिनट) का ही समय मिलेगा। रक्षाबंधन पर सोमवार को भद्राकाल रहेगा उसके बाद चंद्रग्रहण का सूतक शुरू होगा।
Published 04-Aug-2017 08:04 IST | Updated 08:41 IST
कैसा रहेगा आपका आगामी सप्ताह, क्या कहती है आपकी लव लाइफ। कारोबार में नफा होगा या नुकसान, आखिर कैसे चमकेंगे आपके सितारे। आइए जानते हैं ईनाडु इंडिया पर।
Published 30-Jul-2017 00:00 IST
आज हरियाली तीज का त्योहार है। मान्यताओं के अनुसार, देवी पार्वती ने महादेव शिव को प्राप्त करने के लिए कठिन तपस्या की थी। इसी दिन माता पार्वती का भगवान शिव से पुनर्मिलन हुआ था। व्रत और भगवान शिव और माता पार्वती का विधि पूर्वक पूजा करने का विधान है। इस दिन व्रत के साथ-साथ शाम को व्रत की कथा सुनी जातीMore
Published 26-Jul-2017 09:23 IST | Updated 09:24 IST
धार्मिक मान्यता है कि सावन में भोलेनाथ के पूजन और अभिषेक से श्रद्धालुओं की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। यूं तो संपूर्ण श्रावण मास ही शिव अराधना के लिए श्रेष्ठ महीना है। वैसे तो हर माह कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है। किन्तु, श्रावण शिवरात्रि का अपना अलग ही महत्व है। भगवानMore
Published 20-Jul-2017 20:02 IST | Updated 11:55 IST
सनातन धर्म में एकादशी का व्रत अत्‍यंत ही महत्वपूर्ण स्थान रखता है। प्रत्येक वर्ष में चौबीस एकादशियां होती हैं। जब अधिकमास या मलमास आता है तब इनकी संख्या बढ़कर 26 हो जाती है। श्रावण मास की कृष्ण एकादशी का नाम कामिका है। उसके सुनने मात्र से वाजपेय यज्ञ का फल मिलता है।
Published 20-Jul-2017 13:15 IST | Updated 14:53 IST
वाराणसी में एक ऐसा भी गुरूद्वारा है जहां गंगा का जल आज भी अमृत है और भक्तों को हर रोग से मुक्ति देता आ रहा है। गुरुद्वारे में आज भी मां गंगा का जल श्रोत बिल्कुल निर्मल रूप में मौजूद हैं। जिसका दर्शन भक्त करते हैं और अमृत जल भी ग्रहण करते है जिससे कई सारे रोगों से लोगों को मुक्ति मिलती है।
Published 19-Jul-2017 13:11 IST | Updated 13:53 IST
कैसा रहेगा आपका आगामी सप्ताह, क्या कहती है आपकी लव लाइफ। कारोबार में नफा होगा या नुकसान, आखिर कैसे चमकेंगे आपके सितारे। आइए जानते हैं ईनाडु इंडिया पर।
Published 16-Jul-2017 00:00 IST | Updated 11:54 IST
जब रविवार के दिन सप्तमी तिथि होती है तब 'भानु सप्तमी' का पर्व मनाया जाता है। भानु सप्तमी के दिन भगवान सूर्यनरायण के लिए व्रत रखते हुए उपासना करने से अत्यधिक पुण्य की प्राप्ति होती है। धार्मिक मान्यताओं और शास्त्रों में भानु सप्तमी के दिन किए गए जप, हवन, दान से सूर्य ग्रहण पर किए गए उपायों की तरह फलMore
Published 14-Jul-2017 19:59 IST | Updated 09:57 IST
सावन महीने का प्रारम्भ सोमवार को हो चुका है। धार्मिक मान्यता है कि सावन में भोलेनाथ के पूजन और अभिषेक से श्रद्धालुओं की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। लेकिन इसके साथ ही एक रोचक और महत्वपूर्ण घटना है कि, क्यों श्रावण मास ही भगवान शिव को समर्पित है। तो आइये जानते हैं श्रावण मास के बारे में रोचक बातें।
Published 13-Jul-2017 14:31 IST | Updated 13:44 IST
वैसे तो हर महीने की पूर्णिमा का अपना ही महत्व होता है। आषाढ़ मास की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है। गुरु पूर्णिमा को गुरु की पूजा की जाती है। यह पर्व बड़ी श्रद्धा भक्ति भाव के साथ मनाया जाता है।
Published 09-Jul-2017 12:02 IST | Updated 15:55 IST
आज से तकरीबन ढाई हजार वर्ष पूर्व वर्तमान नेपाल देश की तराई में स्‍थित था शाक्‍यों का गणराज्‍य कपिलवस्‍तु। यहीं ईसा से 563 वर्ष पूर्व लुम्‍बिनी ग्राम में जन्‍में थे गौतमबुद्ध। बचपन में इनका नाम सिद्धार्थ था। सिद्धार्थ की मां का नाम महामाया और पिता का नाम शुद्धोदन था। माता के देहान्त के बाद इनकाMore
Published 02-Jul-2017 15:03 IST
सनातन धर्म और ईश्वर में आस्था रखने वाला हर व्यक्ति देव उपासना के दौरान शास्त्रों, ग्रंथों में या भजन और कीर्तन के दौरान ॐ महामंत्र को कई बार पढ़ता, सुनता या बोलता है। धर्मशास्त्रों में यही ॐ प्रणव नाम से भी पुकारा गया है। आध्यात्मिक दर्शन है कि प्रणव यानी ॐ बोलने या ध्यान से शरीर, मन और विचारों परMore
Published 02-Jul-2017 13:39 IST | Updated 06:39 IST
हिन्दू धर्म में आचरण के सख्त नियम हैं जिनका उसके अनुयायी को प्रतिदिन जीवन में पालन करना चाहिए। इस आचरण संहिता में मुख्यत: दस प्रतिबंध हैं और दस नियम हैं। यह सनातन हिन्दू धर्म का नैतिक अनुशासन है। इसका पालन करने वाला जीवन में हमेशा सुखी और शक्तिशाली बना रहता है। आइये जानते हैं सनातन हिन्दू धर्म केMore
Published 30-Jun-2017 13:08 IST | Updated 10:02 IST

MP : यहां राम नहीं रावण है आदर्श, लोग करते हैं पूजा
video playशरद यादव के जाते ही मंच पर शुरू हो गया ऐसा वाला डांस
शरद यादव के जाते ही मंच पर शुरू हो गया ऐसा वाला डांस
video playBHU : 1000 छात्रों के खिलाफ FIR, पुलिस पर भी कार्रवाई
BHU : 1000 छात्रों के खिलाफ FIR, पुलिस पर भी कार्रवाई
video playबिहार के पांच लाख नियोजित शिक्षकों के लिए खुशखबरी...!
बिहार के पांच लाख नियोजित शिक्षकों के लिए खुशखबरी...!

क्या अब स्मार्टफोन एप घटायेगा डिप्रेशन
video playयह बीमारी बुजुर्गों की कॉर्टिकल हड्डी को पहुंचा सकती है नुकसान
यह बीमारी बुजुर्गों की कॉर्टिकल हड्डी को पहुंचा सकती है नुकसान

बीबर ने लिया नस्लवाद के खिलाफ खड़े होने का संकल्प
video playली मिलर की भूमिका नजर आएंगी केट विंसलेट
ली मिलर की भूमिका नजर आएंगी केट विंसलेट
video playआज बॉलीवुड और हॉलीवुड में एक साथ दिखेगी ताज की झलक
आज बॉलीवुड और हॉलीवुड में एक साथ दिखेगी ताज की झलक

जब काम करते-करते हो जाएं बोर तो ऐसे करें खुद को रिफ्रेश
video playइस एप के जरिये 1 लाख युवाओं को मिलेगा रोजगार
इस एप के जरिये 1 लाख युवाओं को मिलेगा रोजगार